फिल्म जगत के शान,नहीं रहे इरफान!!देश ने जताई सम्वेदना

फिल्म जगत के शान,नहीं रहे इरफान!!देश ने जताई सम्वेदना



आनन्द प्रकाश (न्यूज़ डेस्क) 

  • चला गया पान सिंह तोमर
  • आसमान में चमकेगा मकबूल सितारा
  •  इरफान के निधन का फिल्म को सदमा
  • अपने टैलेन्ट से कभी रीपीट नही हुए इरफान

फिल्म जगत के मसहूर एक्टर इरफान खान का मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में बुधवार को निधन हो जाने के साथ ही फ़िल्मी दुनिया में अपूर्णीय क्षति हुई है । बताया जाता है कि लंबे समय से एक दुलर्भ किस्म के कैंसर से जंग लड़ रहे 53 वर्षीय इरफान खान जो फिल्मों में तो हर मुश्किल से जीतते रहे लेकिन केन्सर के सामने जीन्दगी की जंग हार गए ।असल जीन्दगी मे इरफान को 2018 में न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर हुआ था। उनके परिवार में पत्नी सुतापा और दो बेटे बाबिल और अयान हैं। चार दिन पहले ही मा का साया उठा था जिससे परिवार को एक सप्ताह में यह दूसरा झटका लगा है।

“पान सिंह तोमर”अभिनेता की 95 वर्षीय मां सईदा बेगम का चार दिन पहले ही जयपुर में इंतकाल हुआ था। अपने अभिनय से
इरफान खान ने देश से लेकर विदेशों तक अभिनय का लोहा मनवाया। खान को अन्दरूनीं क्रमण होने के कारण मंगलवार को कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया था जहाँ उनका इन्तकाल हो गया। जहा उनके निधन के संबंध में जारी एक बयान में कहा गया है, ‘यह काफी दुखद है कि आज हमें उनके निधन की खबर बतानी पड़ रही है। इरफान एक मजबूत इंसान थे, जिन्होंने अंत तक लड़ाई लड़ी और अपने संपर्क में आने वाले हर शख्स को प्रेरित किया। वहीं सभी लोगों ने अपनी दुःखद सम्वेदनाएँ व्यक्त की बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर लिखा कि इरफान खान के निधन की खबर मिल रही है।  यह एक परेशान करने वाली और दुखद खबर है। अविश्वसनीय प्रतिभा .. महान सहयोगी .. सिनेमा की दुनिया के लिए एक शानदार योगदानकर्ता.. हमें बहुत जल्द छोड़ दिया।

फिल्म ‘पीकू’ के निर्देशक शूजित सिरकार ने अभिनेता के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट किया, ‘मेरे प्रिय मित्र इरफान। तुम लड़े, लड़े और लड़ते रहे। मुझे हमेशा तुम पर गर्व रहेगा…. हम दोबारा मिलेंगे…सुतापा और बाबिल को मेरी संवेदनाएं… तुमने भी लड़ाई लड़ी…. सुतापा तुमने इस लड़ाई में अपना सब कुछ दिया। ओम शांति। इरफान खान तुम्हें सलाम।’ इससे पहले इरफान के प्रवक्ता के हवाले से कहा गया था कि हां यह सही है कि इरफान खान को कोलोन इन्फेक्शन के कारण मुंबई स्थित कोकिलाबेन (अस्पताल) के आईसीयू में भर्ती कराया गया है। हम अपडेट देते रहेंगे। वह डॉक्टर के निरीक्षण में है। उनकी ताकत और साहस ने उन्हें अब तक लड़ाई लड़ने में मदद की है और हमें पूरा विश्वास है कि जबरदस्त इच्छाशक्ति और अपने सभी शुभचिंतकों की प्रार्थनाओं के चलते वह पूर्ण रूप से जल्द ही ठीक हो जाएंगे।अटेंशन में रखा गया है।


कौन थे इरफान


साल 1967 में जयपुर में जन्मा इक फनकार जिसने अपनी अदा से दुनिया को अपना दीवाना बना गया अपने आप मे अभिनय का एक पूरा स्कूल बने इस इरफान खान का जन्म 7 जनवरी 1967 में जयपुर के एक मुस्लिम पठान परिवार में हुआ था। उनका पूरा नाम साहबजादे इरफान अली खान है। उनके पिता टायर का व्यापार करते थे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बॉलीवुड की दुनिया में अपनी अदाकारी के लिए मशहूर एक्टर इरफ़ान खान ने हॉलीवुड में भी अपना धौंस जमाई है। इस एक्टर ने अपने सफर में कई चुनौतियों का सामना किया है  लंबे वक़्त से अपनी सेहत से जूझ रहे इस अभिनेता ने अपनी हिम्मत को कभी पस्त नहीं होने दिया। लेकिन सांसारिक जीवन-चक्र के अनुसार आज वो शुन्य में विलीन हो गए।


इरफान खान की चुनिंदा फिल्में और सम्मान


इरफान ने ‘मकबूल’, ‘लाइफ इन अ मेट्रो’, ‘द लंच बॉक्स’, ‘पीकू’, ‘तलवार’ और ‘हिंदी मीडियम’ जैसी शानदार फिल्मों में काम किया है। उन्हें ‘हासिल’ (निगेटिव रोल), ‘लाइफ इन अ मेट्रो’ (बेस्ट एक्टर), ‘पान सिंह तोमर’ (बेस्ट एक्टर क्रिटिक) और ‘हिंदी मीडियम’ (बेस्ट एक्टर) के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला। ‘पान सिंह तोमर’ के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड दिया गया था। कला के क्षेत्र में उन्हें देश का चौथा सबसे बड़ा सम्मान पद्मश्री भी मिल चुका है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

पृथ्वी दिवस के अवसर पर भाजपा नेता ने किया वृक्षारोपण

🔊 Listen to this पृथ्वी दिवस के अवसर पर भाजपा नेता ने किया वृक्षारोपण   …