चाइनीज मांझे से लगातार दूसरे दिन भी एक पुलिसकर्मी घायल-

लखनऊ, राष्ट्रदर्शन- Lockdown in Lucknow: कोरोना वायरस से बचाव को लेकर शहर में लॉकडाउन किया गया है। ऐसे में पतंग के माध्यम से लोग बोरियत दूर करने में लगे हैं। वहीं, इसका चाइनीज मांझा ड्यूटी पर निकले लोगों के लिए आफत बन गया है। लगातार दो दिन में दो पुलिसकर्मियों को जख्मी करने का मामला सामने आया है।

दरअसल, गोमतीनगर थाने में तैनात सिपाही विशाल सिंह रविवार को चाइनीज मांझे से जख्मी हो गए। हादसा पॉलीटेक्निक ओवरब्रिज पर हुआ, जहां शनिवार को महिला सिपाही चाइनीज मांझे की चपेट में आकर घायल हो गई थीं। ड्यूटी पर जा रहे विशाल को लोहिया अस्पताल ले जाया गया। विशाल के गले में जख्म हुआ है। इलाज के बाद विशाल को डॉक्टरों ने छुट्टी दे दी।विशाल की हालत खतरे से बाहर है।

महिला सिपाही मामले में अज्ञात पर केस

उधर, शनिवार को पॉलीटेक्निक चौराहे पर चाइनीज मांझे से महिला के घायल होने के मामले में गाजीपुर थाने में अज्ञात व्यक्ति पर एफआइआर दर्ज हुई है। पुलिस अभी आरोपित का पता नहीं लगा सकी है। घायल महिला सिपाही अब भी लोहिया अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। लॉकडाउन के बावजूद लखनऊ में चाइनीज मांझा बिक रहा है, यह भी बड़ा सवाल है।

मांझे से कई बार रुका मेट्रो का संचालन

चाइनीज मांङो ने कई बार मेट्रो खड़ी करा दी। मेट्रो की ओएचई लाइन पर मांझा गिरने से शॉर्ट सर्किट हुआ। इससे ओएचई के समानांतर तारों को भारी नुकसान हुआ। यात्रियों को भी रास्ते में खड़े रहना पड़ा। लखनऊ मेट्रो को इससे लाखों का नुकसान हुआ है। यूपीएमएलआरसी ने मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई थी।

पहले भी हो चुके हैं हादसे

मांझे से पूर्व में भी कई हादसे हो चुके हैं। पुरनिया, निरालानगर, पॉलीटेक्निक, गोमतीनगर, निशातगंज समेत कई ओवरब्रिज पर कई लोग मांझे की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं। इंस्पेक्टर गोमतीनगर धीरज कुमार सिंह के मुताबिक चाइनीज मांङो की चपेट में आकर सिपाही घायल हो गया था। इस बाबत सिपाही ने संबंधित थाने में एफआइआर दर्ज कराने की बात कही है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

पृथ्वी दिवस के अवसर पर भाजपा नेता ने किया वृक्षारोपण

🔊 Listen to this पृथ्वी दिवस के अवसर पर भाजपा नेता ने किया वृक्षारोपण   …